आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की जानकारी | Artificial Intelligence in Hindi

Artificial intelligence information in Hindi आइए आज जानते हैं What is artificial Intelligence आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में.

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का अर्थ – Artificial Intelligence Definition

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का अर्थ है मनुष्य की सोचने की शक्ति और निर्णय लेने की क्षमता को मशीन में डालना या किसी सॉफ्टवेयर में डालना या किसी प्रोग्राम में डालना। कभी-कभी हमारे जीवन में समस्याएं आती हैं, और हम उस समस्या का समाधान उसी तरह ढूंढते हैं। जैसा कि हम जानते हैं कि हम खुद मशीन और कंप्यूटर को कमांड देते हैं। हम तय करते हैं कि हम मशीन या कंप्यूटर को क्या करना चाहते हैं। लेकिन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में मशीन खुद तय करती है कि आगे क्या करना है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर जानकारी – Artificial Intelligence Information in Hindi

इस लेख में, हम मानव निर्मित कृत्रिम बुद्धि (artificial intelligence) का संक्षिप्त विवरण देने का प्रयास करेंगे।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है? – Artificial Intelligence Meaning Hindi

यदि हिंदी से केवल शब्दों का अर्थ समझा जाए तो Artificial का अर्थ है “कृत्रिम” जो मनुष्य द्वारा बनाया गया है। और intelligence का अर्थ है सोचने की शक्ति। हम AI को संक्षेप में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) भी कहते हैं।

कृत्रिम (आर्टिफिशियल) क्या है? – What is artificial?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बनाने के लिए बहुत सारे शोध किए जा रहे हैं क्योंकि किसी भी महत्वपूर्ण बिंदु पर मशीन अपने आप निर्णय ले लेगी। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का मतलब किसी वस्तु, सामग्री या जानवर का विश्लेषण करना नहीं है। किसी चीज को देखना और उसका विश्लेषण करना अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में शामिल नहीं है। क्योंकि आपने कई ऐसी मशीनें देखी होंगी जो कैमरे से देखकर विश्लेषण कर सकती हैं जैसे आपके चेहरे का भी पता चल जाता है। इसे हम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस नहीं कह सकते क्योंकि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में मशीन खुद फैसले ले सकती है और अपनी भावनाओं और इंसानों से बात करके खुद सोचकर फैसले ले सकती है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग – use of artificial intelligence everyday life

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक बेहतरीन आइडिया है। अब सेल्फ-ड्राइविंग कारें तैयार हैं, यानी बिना ड्राइवर वाली कारें जिनमें कार बिना ड्राइवर के चल सकती है। वे कार खुद कार चलाएंगे, कार को खुद घुमाएंगे, जीपीएस का इस्तेमाल करके खुद कार को गाइड करेंगे। इन कारों में सेंसर होते हैं जो उन्हें यह बताते हैं कि उनके आगे, पीछे और आसपास कौन है।

ऐसा माना जाता है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस हमारे यानी इंसानों के लिए अच्छा नहीं है। क्योंकि ऐसा माना जाता है कि अगले कुछ वर्षों में अगर रोबोट हैं जो खुद निर्णय लेते हैं, तो ऐसे कंप्यूटर हैं जो स्वयं निर्णय लेते हैं, वे भी खतरा पैदा कर सकते हैं। मनुष्य और मशीन के बीच युद्ध हो सकता है क्योंकि वे अपने निर्णय स्वयं लेंगे। साथ ही, क्योंकि उनमें भावनाएं हैं, वे व्यक्ति के खिलाफ जाएंगे और निर्णय लेंगे। ये दिन इतने दूर नहीं हैं कि अगले कुछ वर्षों में हम रोबोटों को सड़कों पर चलते हुए, स्वयं निर्णय लेते हुए देखेंगे।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रकार – types of artificial intelligence

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस 2 प्रकार के होते हैं।

कमजोर कृत्रिम बुद्धिमत्ता – Weak artificial intelligence

आइए एक उदाहरण के साथ कमजोर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को समझते हैं। जब आप किसी शॉपिंग साइट पर किसी उत्पाद की जांच करते हैं जैसे। इसे कमजोर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहा जाता है जिसका विज्ञापन आप Amazon, Flipkart और फिर अपनी किसी भी साइट पर देखेंगे।

मजबूत कृत्रिम बुद्धिमत्ता – Strong artificial intelligence

आइए एक उदाहरण के साथ शक्तिशाली कृत्रिम बुद्धिमत्ता को समझते हैं। रोबोट और मशीन उसी तरह सोच सकते हैं जैसे हम सोच सकते हैं। इसे ही पावरफुल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहते हैं।

टेबल टेनिस खेल की जानकारी
चीता की जानकारी
अंगूर की जानकारी

FAQ

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है? आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) कंप्यूटर या रोबोट द्वारा नियंत्रित किए जाने वाले कार्यों को करने की क्षमता है जो आमतौर पर मनुष्यों द्वारा किए जाते हैं क्योंकि उन्हें मानव बुद्धि और विवेक की आवश्यकता होती है।

Artificial intelligence (AI) के 4 प्रकार क्या हैं?

वर्गीकरण की वर्तमान प्रणाली के अनुसार, चार प्राथमिक एआई प्रकार हैं: प्रतिक्रियाशील, सीमित स्मृति, मन का सिद्धांत और आत्म-जागरूक।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) क्या है उदाहरण सहित ?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीनों, विशेष रूप से कंप्यूटर सिस्टम द्वारा मानव खुफिया प्रक्रियाओं का अनुकरण है। एआई के विशिष्ट अनुप्रयोगों में विशेषज्ञ प्रणाली, प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण, वाक् पहचान और मशीन दृष्टि शामिल हैं।

AI के 3 प्रकार क्या हैं?

  • कृत्रिम संकीर्ण बुद्धि (एएनआई), जिसमें क्षमताओं की एक संकीर्ण सीमा होती है;
  • आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस (एजीआई), जो मानव क्षमताओं के बराबर है; या।
  • कृत्रिम अधीक्षण (एएसआई), जो मानव से अधिक सक्षम है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) का भविष्य क्या है?

निस्संदेह, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) कंप्यूटर विज्ञान का एक क्रांतिकारी क्षेत्र है, जो विभिन्न उभरती प्रौद्योगिकियों जैसे बड़े डेटा, रोबोटिक्स और आईओटी का मुख्य घटक बनने के लिए तैयार है। यह आने वाले वर्षों में एक तकनीकी नवप्रवर्तनक के रूप में कार्य करना जारी रखेगा।

उपरोक्त सभी को देखकर आपने अनुमान लगाया होगा कि कृत्रिम बुद्धि क्या है, कितने प्रकार की होती है और यह कैसे काम करती है। अगर आपको यह लेख कृत्रिम बुद्धिमत्ता की जानकारी हिंदी में (artificial intelligence information in hindi) पसंद है, तो फेसबुक, ओट्सप्प जैसे विभिन्न सोशल मीडिया के माध्यम से अपने दोस्तों और परिवार के साथ जानकारी साझा करें। साथ ही अगर इस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इंफॉर्मेशन इन हिंदी (artificial intelligence information in hindi) आर्टिकल के बारे में कुछ और हो तो आप हमें कमेंट के जरिए बता सकते हैं, धन्यवाद।

यदि आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कोई गलती पाते हैं तो आप तुरंत कमेंट बॉक्स और ईमेल लिखकर हमें सूचित करें, यदि आपके द्वारा दी गई जानकारी सही है, तो हम निश्चित रूप से इसे बदल देंगे। अधिक जानकारी के लिए विजिट करें: Malhath TV

नमस्कार मेरा नाम SD Yadav है, मैं Malhath TV का Co-Founder, writer and Soundproof Expert हूँ।

Leave a Comment